जेहन से अपाहिजों की नपुंसक दलीलें…

कारगिल शहीद केप्टन मंदीप सिंह की बेटी गुरमेहर कौर को सलाम… जिसने बड़ी दबंगता से खुद को मिली दुष्कर्म की धमकी का तो जवाब दिया ही, वहीं चल रहे केंपेन से खुद को अलग करते हुए दो टूक कह दिया कि वह अपनी बात कह चुकी है… यह पहला मामला नहीं है जब अपनी निजी राय रखने का खामियाजा किसी गुरमेहर को न भुगतना पड़ा हो… इसमें तो कोई शक नहीं कि देश विरोधी गतिविधियों के मामलों में कोई समझौता नहीं किया जा सकता, मगर उन फर्जी चेहरों की शिनाख्ती भी जरूरी है जो इसकी आड़ में अपना एजेंडा थोपने के प्रयास गुण्डागर्दी के बल पर करते साफ-साफ नजर आते हैं… दरअसल ये लोग जेहन से अपाहिज तो हैं हीं, वहीं इनकी दलीलें भी नपुंसक नजर आती हैं… आश्चर्य होता है कि वीरेन्द्र सहवाग जैसे क्रिकेटर भी इस जमात में शामिल होकर भौंडा प्रदर्शन करते दिखते हैं… अभी दुनिया के प्रतिष्ठित ऑस्कर अवार्ड समारोह में ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की जमकर खिल्ली उड़ाई गई… क्या हम कल्पना कर सकते हैं कि फिल्म फेयर या ऐसे किसी अवॉर्ड समारोह में देश के कर्णधारों को इस तरह कठघरे में खड़ा किया जा सकता है..? अमेरिका में मारे गए भारतीय युवा इंजीनियर श्रीनिवास की याद में निकले मार्च के बैनरों पर भी यही लिखा नजर आया कि हम घृणा की राजनीति का समर्थन नहीं करते… वहां के समाज ने इस हत्या को बर्बर और नाजायज ही माना है… यही कारण है कि अमेरिका आज दुनिया पर राज करता है, क्योंकि उनके दिमाग खुले हैं और वे आलोचनाओं को बर्दाश्त करने का सामथ्र्य भी रखते हैं, बजाय हमारी तरह कपड़े फाडऩे पर उतारू नहीं हो जाते… ट्रम्प की खिलाफत करने वाले अमेरिकी मीडिया को भी किसी ने लानतें नहीं भेजीं और न ही किसी को देशद्रोही करार दिया गया… वैसे गुरमेहर ने भी सही जवाब दिया कि उनका दिमाग किसी ने दूषित नहीं किया, उनके पास अपना खुद का दिमाग है… बहरहाल इन फिजूल की नपुंसक दलीलों के बीच असल मुद्दे सुर्खियों से गायब करने की प्रवृत्ति के खेल को भी समझने की जरूरत है… यही कारण है कि विकास का ढोल पीटने वाले चुनावों के दौरान अपनी असली चेहरे और एजेेंडे के साथ नमूदार हो जाते हैं…

(राजेश ज्वेल)
9827020830


(लेखक परिचय : इंदौर के सांध्य दैनिक अग्निबाण में विशेष संवाददाता के रूप में कार्यरत् और 30 साल से हिन्दी पत्रकारिता में संलग्न एवं विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं के साथ सोशल मीडिया पर भी लगातार सक्रिय)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *