सोनालीका आईटीएल का सालाना राजस्व 17 प्रतिषत बढ़ा, 4268 करोड़ रु

नई दिल्ली|

भारत के सबसे युवा और तीसरे सबसे बड़े ट्रैक्टर ब्रांड सोनालीका इंटरनेषनल ट्रैक्टर्स लिमिटेड ने वित्त वर्ष 16-17 में षानदार प्रदर्षन किया है। कंपनी का सालाना राजस्व 17 प्रतिशत बढ़कर 4268 करोड़ रु तक पहुंच गया है।

कंपनी ने अब तक सर्वाधिक 81531 ट्रैक्टरों की बिक्री की जिसके चलते मुनाफे में 22 प्रतिषत सालाना की वृद्धि हुई है। सोनालीका आईटीएल के लिए 2016-17 शानदार सफलता लेकर आया जबकि इसने उद्योग में कई मानक स्थापित किए और उद्योग से अधिक की विकास दर दर्ज कराते हुए अपनी स्थिति को और मजबूती भी दी।

साथ ही, कंपनी की बाजार हिस्सेदारी 11ण्9ः से बढ़कर 12ण्3ः के स्तर पर पहुंच गई है। सोनालीका का विष्व का अव्वल नंबर का एकीकृत ट्रैक्टर निर्माण संयंत्र होषियारपुर, पंजाब में है जिसका उद्घाटन माननीय मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 8 मई, 2017 को किया।

800 करोड़ रु के नए निवेष के साथ सोनालीका का अव्वल नंबर का एकीकृत ट्रैक्टर मैन्यूफैक्चरिंग प्लांट 85 एकड़ से अधिक के विषाल क्षेत्रफल में फैला है।

यह संयंत्र दुनियाभर में ग्राहकों की लगातार बढ़ती मांग को पूरा करने के हिसाब से लैस है। सोनालीका का यह संयंत्र हर दो मिनट में एक ट्रैक्टर का निर्माण करने के लिहाज से तकनीकी रूप से संपन्नत है, इस संयंत्र में हर साल 3 लाख ट्रैक्टरों का निर्माण किया जाता है।

अंतरराश्ट्रीय क्वालिटी के उन्नत ट्रैक्टरों का निर्माण करने वाली सोनालीका दुनियाभर के 80 देषों को आपूर्ति करती है और यह संयंत्र भारतीय किसानों के लिए भी उन्नत उत्पादों को उपलब्ध कराने की दिषा में प्रयासरत है।

कंपनी के सालाना प्रदर्षन के बारे में रमन मित्तल, कार्यकारी निदेषक, सोनालीका आईटीएल ने कहा, ’’वित्त वर्श 16-17 हमारे लिए काफी उल्लेखनीय रहा है।

लगातार विकास के हमारे जज़्बे, ग्राहकों को विष्वस्तरीय उत्पाद मुहैया कराने तथा घरेलू एवं अंतरराश्ट्रीय बाजारों में अपने भागीदारों का भरोसा जीतकर हमने भविश्य के लिए अपनी राह आसान बनायी है।

विव 18 के पहले महीने में ही बिक्री में 22 फीसदी की बढ़त ने हमें अधिक विकास के लिए और जोर-षोर से जुट जाने के प्रेरित किया है और हमारे पास सबसे बड़ा प्लांट, विश्वस्तरीय उत्पाद तथा बेहद समर्पित टीम की ताकत है। उद्योग में सकारात्मक रुझानों के मद्देनज़र, हमें यकीन है कि सोनालीका घरेलू और वैष्विक बाजारों में अपनी स्थिति को मजबूत करने की स्थिति में है।‘‘

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *